करेंसी ट्रेड

ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े

ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े
एक बात का ख्याल अवश्य रखें कि बैंक से संबंधी कोई भी इंफॉर्मेशन किसी भी व्यक्ति के साथ साझा ना करें।

ऑनलाइन बैंकिंग – online banking करते समय ध्यान रखें ये सेफ़्टी टिप्स

चूंकि आज कल डिजिटल इंडिया (digital India ) का कॉन्सेप्ट तेज़ी से ही हमारे सामने उभर कर आ रहा है। आज हर चीज़ ऑनलाइन होने लगी है और ऐसे में हम ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े ऑनलाइन शॉपिंग और ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) को भी महत्व देने लगे हैं जिससे इंटरनेट (internet) का प्रयोग भी काफ़ी ज़्यादा हो गया है।

किसी भी सामान को ऑनलाइन मंगाने के लिए हमें उसे ऑनलाइन ही पैसा देना पड़ता है जो कि हम ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) के द्वारा करते हैं।

वैसे तो बड़े ई कॉमर्स पोर्टल तथा ट्रस्टेड ऐप्स सिक्योर ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) की सुविधा को सुनिश्चित कर रहे हैं लेकिन फिर भी आज ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) के समय साइबर क्राइम बढ़ रहा है।

ये तो वैसे भी एक कॉमन सी बात है कि जब कोई व्यक्ति ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) के द्वारा ट्रांजेक्शन को पूरा करने की सोचता है तो उसके मन में कुछ ना कुछ डर अवश्य रहते हैं। कुछ डर बेबुनियाद होते हैं लेकिन कुछ बिंदु ऐसे भी होते हैं जो सिक्योरिटी के लिए ज़रूरी होते हैं।

पब्लिक वाई फ़ाई से बचें (online banking)

इंटरनेट के कई ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े मोड होते हैं जिनमें से Wi-Fi एक प्रमुख मोड है। वाई फ़ाई के द्वारा तेज़ और अच्छी इंटरनेट की स्पीड मिलती है लेकिन ऑनलाइन बैंकिंग (online ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े banking) के दौरान पब्लिक वाई फ़ाई से बचना चाहिए।

इंटरनेट (internet) अपने आप में एक बहुत बड़ा जाल है और इस जाल में कुछ चोर हमेशा बैठे रहते हैं जो आपके डेटा और पैसों को चुराने के लिए उत्सुक होते हैं।

पब्लिक वाई फ़ाई के दौरान ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) सिक्योर नहीं होता है। पब्लिक वाई फ़ाई के द्वारा हैकर्स को आपकी डिवाइस में इनफेक्टेडट सॉफ़्टवेयर या वायरस पहुँचाने का अच्छा मौक़ा मिल सकता है।

इन सॉफ़्टवेयर या वायरस की मदद से हैकर्स ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े आपका डेटा चुरा सकते हैं तथा ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) के दौरान पैसा अपने अकाउंट ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े में ट्रांसफर कर सकते हैं। इसलिए इंटरनेट के इस मोड से थोड़ा सतर्क रहें तथा पब्लिक वाई फ़ाई के दौरान ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) से बचें।

कस्टमर केयर नंबर खोजना (online banking)

ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) के दौरान कौन कौन सी गाइडलाइंस फ़ॉलो करनी चाहिए यदि आपको इस बारे में जानकारी नहीं है तो आप कस्टमर केयर नंबर खोजते होंगे।

हर बैंक का अपना एक अलग कस्टमर केयर सर्विस नम्बर होता है जो उन्हें ऑनलाइन बैंकिंग (online ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े ऑनलाइन कमाई के 12 तरीक़े banking) तथा बैंक से सम्बंधित अन्य चीज़ों के बारे में जानकारी देता है लेकिन आजकल साइबर क्राइम बढ़ रहा है इसलिए इंटरनेट पर सावधान रहने की आवश्यकता है।

यदि आप ऑनलाइन बैंकिंग (online banking) के लिए किसी बैंक का कस्टमर केयर नंबर ढूंढना चाहते हैं तो उसे इंटरनेट या गूगल पर ना सर्च करें।

हर बैंक की अपनी एक विशेष वेबसाइट भी होती है जो उसकी ऑफिशल वेबसाइट होती है। अगर आप इंटरनेट की मदद से कस्टमर केयर नंबर ढूँढ रहे हैं तो कोशिश करें कि आप ऑफिशल वेबसाइट पर ही जाएँ।

गूगल अथवा इंटरनेट पर ऐसी बहुत सी वेबसाइट्स मौजूद हैं जो फेक हैं और वे कस्टमर केयर सर्विस नंबर का दावा करती हैं। ये दरअसल पैसा चुराने की एक तकनीक भी हो सकती है।

रेटिंग: 4.85
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 377
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *