सीएफडी और फॉरेक्स ट्रेडिंग

विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर

विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर
© Reuters. एक लक्ष्मण रेखा है, जिसे एयरलाइंस को पार नहीं करना चाहिए: सिंधिया

विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर

देश में कृषि सुधार के लिए दो महत्वपूर्ण विधेयक- “कृषक उपज व्‍यापार और वाणिज्‍य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक, 2020’’ तथा कृषक (सशक्‍तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्‍वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020 - लोक सभा से पारित अब किसान अपनी मर्जी…

मटर की खेती का उचित समय

मटर की खेती कई इलाकों में हरी सब्जी के लिए तो कई इलाकों में पकाने के लिए की जाती है। देश के विभिन्न राज्यों में मटर की खेती बखूबी की जाती है। मिट्टी मटर की खेती के लिए ब्लू दोमट मिट्टी सर्वाधिक श्रेष्ठ रहती है। बुवाई का समय मटर…

गेहूँ की फसल की बात किसान के साथ

आज हम गेंहूं विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर की खेती के बारे में बात करेंगें. विश्व के 25 से 30% भाग पर प्राय गेहूँ की खेती की जाती है.आज हमारा देश खाद्यान के मामले में किसी के ऊपर आश्रित नहीं है इसमें हमारे वैज्ञानिक, राजनेताओं ( हरितक्रांति) एवं किसानों का बहुत…

विभिन्न परिस्थितियों के लिए सरसों की उन्नत किस्में

सरसों रबी की प्रमुख तिलहनी फसल है जिसका भारतीय अर्थव्यवस्था में एक विषेश स्थान है। सरसों कृशकों के लिए बहुत लोकप्रिय होती जा रही है क्योंकि इससे कम सिंचाई व लागत में दूसरी फसलों की अपेक्षा अधिक लाभ प्राप्त हो रहा है। इसकी खेती मिश्रित…

चौधरी चरण सिंह पुरस्कार सम्मानित श्री दिलीप कुमार यादव जी

दिलीप कुमार यादव लंबे समय तक प्रतिष्ठित समाचार पत्रों में पत्रकार रहे हैं। उन्हें कृषि पत्रकारिता के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद,(भारत सरकार) द्वारा चौधरी चरण सिंह पुरस्कार 2008 से सम्मानित किया जा चुका है। आपके द्वारा कृषि ज्ञान एवं…

श्री तेजपाल सिंह: डिस्ट्रिक्ट हॉर्टिकल्चर मिशन मथुरा एवं डिस्ट्रिक्ट हॉटीकल्चर डेवलपमेंट…

श्री तेजपाल सिंह जी एक बड़े कृषक परिवार से आते हैं और क्षेत्र के प्रगतिशील किसान है. तेजपाल जी खेती के साथ साथ डेरी उद्योग , मछली पालन चलाते हैं और कृषि क्षेत्र गोष्ठियों में भी एक्सपर्ट पैनल में होते हैं. तेजपाल जी ने 2014 डेरी उद्योग…

श्री छेदालाल पाठक बने किसानों के मार्गदर्शक

श्री छेदालाल पाठक जी जनता इण्टर कालेज से रिटायर्ड प्रवक्ता है तथा बड़े किसानों में आते है. पाठक जी अध्यापक रहे हैं तो क्षेत्र में लोगों में सम्मानित भी है. पाठक जी हमारे टीम के वरिष्ठ विशेषज्ञ हैं तथा समय समय पर हमें इनका मार्गदर्शन…

श्री प्रमोद कुमार पंवार:जैविक खेती और रासायनिक खेती विशेषज्ञ

हमारे एक्सपर्ट/विशेषज्ञ श्री प्रमोद कुमार पंवार जी जैविक खेती और रासायनिक खेती में अपनी अच्छी पकड़ रखते हैं एवं जैसा की आप जानते हैं एक किसान होने के नाते श्री प्रमोद जी पशुपालन में भी अच्छी पकड़ रखते है तथा समय समय पर हमारे ग्रुप के…

सरसों की खेती (Mustard Cultivation): कम लागत में अच्छी आय

सरसों की खेती में किसान को कम लागत में अच्छी आय हो जाती विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर है और इसमें ज्यादा लागत भी नहीं आती है सबसे बड़ी बात जहाँ पानी की कमी हो वहां इसका उत्पादन किया जा सकता है। इसके खेत को किसान दूसरी फसलों के लिए भी प्रयोग में ला सकता है. सरसों की…

किसानों को उपलब्ध कराया जाएगा प्रमाणित बीज : मंत्री डॉ. भदौरिया

किसानों को गुणवत्तापूर्ण एवं प्रमाणित बीज उपलब्ध कराने में बीज संघ प्रभावी भूमिका निभाए। बीज उत्पादक समितियों द्वारा उत्पादित प्रमाणित बीज को शासन की विभिन्न योजनाओं में प्राथमिकता के आधार पर लिया जाकर किसानों को उपलब्ध कराया जाए।…

एक लक्ष्मण रेखा है, जिसे एयरलाइंस को पार नहीं करना चाहिए: सिंधिया

शेयर बाजार 11 मई 2022 ,22:45

एक लक्ष्मण रेखा है, जिसे एयरलाइंस को पार नहीं करना चाहिए: सिंधिया

© Reuters. एक लक्ष्मण रेखा है, जिसे एयरलाइंस को पार नहीं करना चाहिए: सिंधिया

में स्थिति को सफलतापूर्वक जोड़ा गया:

>नई दिल्ली, 11 मई (आईएएनएस)। इंडिगो एयरलाइन के कर्मचारियों ने शनिवार को एक दिव्यांग बच्चे को रांची एयरपोर्ट पर हैदराबाद जाने वाले एक विमान में चढ़ने से रोक दिया था, जिसका संज्ञान खुद नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने लिया है।

एक ओर जहां विमानन नियामक डीजीसीए ने मामले में जांच शुरू की है, वहीं मंत्री सिंधिया ने भी कड़ा रुख अपनाते हुए कहा है कि पूरी जांच उनकी निगरानी में ही होगी।

सिंधिया ने इस घटनाक्रम के बारे में आईएएनएस से बात करते हुए अपने सख्त रुख को दोहराया है। उन्होंने कहा, मैं इस तरह के व्यवहार के लिए जीरो टॉलरेंस रखता हूं और किसी भी इंसान को इस तरह के कष्टदायक अनुभव से नहीं गुजरना चाहिए।

इसी तरह हाल ही में दुर्गापुर जाने वाली उड़ान में सवार लोगों को विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर पहुंची चोट और सामने आई परेशानी पर उन्होंने कहा कि मामले से बेहद गंभीरता और अच्छे ढंग से निपटा जा रहा है।

उन्होंने कहा, यह समझना होगा कि एक लक्ष्मण रेखा है, जिसे एयरलाइंस पार नहीं कर सकती हैं। मैंने कई सलाहकार समूह स्थापित किए हैं और मैं व्यक्तिगत रूप से ये बैठकें करता हूं, लेकिन हमारे पास ऐसे उदाहरण नहीं हो सकते हैं। मैं ऐसे सभी मुद्दों से पारदर्शी तरीके से निपटने और चर्चा करने के लिए तैयार हूं और कानून का शासन सभी के लिए समान है। याद रखें कि मैं एक सुविधाकर्ता हूं और समस्या समाधानकर्ता के रूप में आसानी से उपलब्ध हूं।

सिंधिया चाहते हैं कि देश एक वैश्विक विमानन केंद्र बने और वह विभिन्न गंतव्यों के लिए नॉन-स्टॉप उड़ानों के साथ सीधे यात्रियों को ले जाए।

इसके अलावा वह चाहते हैं कि भारतीय वाहक यूरोप और उत्तरी अमेरिका के गंतव्यों के लिए सीधे उड़ान विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर भरने की योजना के साथ आगे आएं। साथ ही, वह यह भी चाहते हैं कि भारत दक्षिण पूर्व एशियाई और एंजैक एयरलाइनों के लिए एक लॉन्च पैड बने, ताकि वे यूरोप और उत्तरी अमेरिका के लिए उड़ान भरने के लिए दिल्ली और विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर मुंबई का उपयोग लेओवर के रूप में कर सकें।

उन्होंने कहा, हम तेजी से अपने बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहे हैं, जमीन और हवा दोनों में क्षमता बढ़ा रहे हैं, तो हम इस मोर्चे पर भी आगे क्यों न बढ़ें। हवाई अड्डों को पट्टे पर देने, उनके उन्नयन (अपग्रेडेशन) और अधिक विमानों जैसे विभिन्न मोर्चो पर हम विस्तार कर रहे हैं।

इसके अलावा, सिंधिया ने कहा कि मौजूदा किराया प्रणाली यानी फेयर कैप हवाई यात्रियों के साथ-साथ एयरलाइंस के लिए एक रक्षक के रूप में कार्य करती है और संकेत दिया है कि यात्री यातायात और जेट ईंधन की कीमतों के मामले में पर्यावरणीय स्थिति को स्थिर करने के बाद प्रतिबंधों को दूर किया जा सकता है।

उन्होंने कहा, घरेलू हवाई यात्री यातायात लगभग ठीक हो गया है। पूर्व-कोविड स्तर और हाल के दिनों में कुछ दिनों में 4 लाख का आंकड़ा पार हो चुका है। हालांकि, जेट ईंधन की कीमतें ऊंचे स्तर पर हैं और कई राज्यों ने ईंधन पर लगाए गए करों को कम कर दिया है।

सिंधिया ने कहा कि फेयर कैपिंग, जो एक रोलिंग के आधार पर किया जाता है, यात्रियों को अत्यधिक किराया वसूलने से बचाता है।

कच्चे तेल की कीमतों में तेजी के साथ, फेयर कैपिंग 15 दिनों के चक्र के लिए रोलिंग आधार पर लागू होती है और स्थिति की निगरानी नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा की जाती है।

इस बात पर जोर देते हुए कि नागरिक उड्डयन क्षेत्र कोरोनावायरस महामारी से बुरी तरह प्रभावित होने के बाद पूरी तरह से पटरी पर लौटने की राह पर है, मंत्री ने कहा कि एक बार यात्री यातायात स्थिर होने के बाद इसे ठीक माना जा सकता है और एटीएफ (एविएशन टर्बाइन फ्यूल) की कीमत भी कम होनी चाहिए, ताकि एयरलाइंस का संचालन सही रहे।

मंत्री ने आगे कहा, फेयर कैप दोनों तरफ, ऊपर और नीचे दोनों तरफ एक रक्षक (प्रोटेक्टर) है.. जैसे ही वह (स्थिर) अवधि आती है.. मुझे हस्तक्षेप करने की कम से कम इच्छा है और मुझे एक अच्छा अनुभव बनाने की जरूरत है, ताकि आप लोग (उद्योग) आगे आ सकें।

कार्गो यातायात पर काफी आक्रामक सिंधिया ने कहा कि सरकार 2024-2025 तक 33 नए घरेलू कार्गो टर्मिनल स्थापित करेगी, जिससे भारत के कार्गो क्षेत्र को फलने-फूलने विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर का मौका मिलेगा और इसमें उछाल आएगा। कार्गो क्षेत्र में सुधारों पर जोर देते हुए, मंत्री ने कहा कि उद्योग के दिग्गजों को कार्गो में 1 करोड़ मीट्रिक टन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए टियर-2 और टियर-3 शहरों से महानगरों तक छोटे कार्गो भार के परिवहन पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि यह छोटे आकार के विमानों के अधिग्रहण से हासिल किया जा सकता है। इसे सुगम बनाने के लिए उन्होंने कहा कि 2024-2025 तक 33 नए घरेलू कार्गो टर्मिनल स्थापित किए जाएंगे। उन्होंने प्रक्रियाओं को कागज रहित बनाकर, ऑटोमेशन को अपनाने और डिजिटलीकरण करके कार्गो क्षेत्र में व्यापार करने में आसानी पर काम करने की आवश्यकता पर बल दिया, जो कार्गो प्रसंस्करण (प्रोसेसिंग) को तेज कर सकता है।

पिछले दो वर्षों के दौरान कोविड महामारी के बीच कार्गो क्षेत्र न केवल भारतीय विमानन के लिए बल्कि वैश्विक विमानन के लिए एक आशाजनक क्षेत्र के रूप में उभरा है। भारतीय कार्गो क्षेत्र में 2013-14 के बाद से 9 से 10 प्रतिशत की वृद्धि विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर दर देखी गई है। पिछले दो वर्षों के दौरान, एयरलाइनों ने कार्गो राजस्व में 520 प्रतिशत की वृद्धि देखी है।

एचइसी और विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच एमआेयू

एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच शनिवार को 13 क्रेन के निर्माण को लेकर एमआेयू हुआ है। इस पर एचइसी के सीएमडी जीके पिल्लई और दुर्गापुर स्टील प्लांट की आेर से कार्यपालक निदेशक (प्रांजेक्ट) जीसी.

 एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच एमआेयू

एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच शनिवार को 13 क्रेन के निर्माण को लेकर एमआेयू हुआ है। इस पर एचइसी के सीएमडी जीके पिल्लई और दुर्गापुर स्टील प्लांट की आेर से कार्यपालक निदेशक (प्रांजेक्ट) जीसी मित्रा ने हस्ताक्षर किये। एमआेयू के तहत रोटेटिंग क्रेन के अलावा 20 से 30 टन की क्रेन भी शामिल है। इस मौके पर एचइसी के सीएमडी जीके पिल्लई ने दुर्गापुर स्टील प्लांट को भरोसा दिलाया कि एचइसी इस ऑर्डर के उपकरणों को गुणवत्ता के साथ-साथ निर्धारित समय में आपूर्ति करेगा। इस अवसर पर दुर्गापुर स्टील प्लांट के एमडी वी श्यामसुंदर ने एचइसी को आगे भी सहयोग करने रहने का आश्वासन विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर दिया है। इससे पहले एचइसी ने बोकारो स्टील प्लांट और भिलाई स्टील प्लांट के साथ एमआेयू किया है।

BIG NEWS : Xiaomi इंडिया पर ED का शिकंजा, 5, 551 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त

साल 2021 में शाओमी भारत में सर्वाधिक स्मार्टफोन बेचनेवाली कंपनी है

New Delhi : प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को कहा कि उसने शाओमी (Xiaomi) टेक्नोलॉजी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड से संबंधित 5,551.27 करोड़ रुपये जब्त किए हैं. यह कार्रवाई 1999 के विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम के प्रावधानों के तहत की गई है. जांच एजेंसी ने कहा कि पैसा चीनी स्मार्टफोन दिग्गज के बैंक खातों में था और इसे सीज किया गया है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक इस महीने की शुरुआत में यह सामने आया था कि एजेंसी ने जांच के तहत शाओमी कोर्पोरेशन के एक पूर्व भारतीय प्रमुख को यह निर्धारित करने के लिए बुलाया था कि क्या कंपनी की व्यावसायिक प्रथाएं भारतीय विदेशी मुद्रा कानूनों के अनुरूप हैं. ईडी दो महीने से अधिक समय से कंपनी की जांच कर रही है.

इस संबंध में एजेंसी ने शाओमी इंडिया के पूर्व प्रबंध निदेशक मनु कुमार जैन को पूछताछ के लिए उपस्थित होने के लिए कहा था. हालांकि इस पर न तो जैन और न ही एजेंसी ने टिप्पणी दी है.

क्या कहा कंपनी ने

शाओमी ने रॉयटर्स को बताया कि कंपनी सभी भारतीय कानूनों का पालन करती है और ‘सभी नियमों का पूरी तरह से अनुपालन’ करती है. “हम अधिकारियों के साथ उनकी चल रही जांच में सहयोग कर रहे हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि उनके पास सभी आवश्यक जानकारी है.”

ये चल रही है जांच

रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, ईडी शाओमी इंडिया, अनुबंध निर्माताओं और चीन में विदेशी मुद्रा समाचार दुर्गापुर मूल इकाई के बीच मौजूदा व्यावसायिक संरचनाओं की जांच कर रहा है. एक सूत्र ने बताया कि शाओमी इंडिया और उसकी मूल इकाई के बीच रॉयल्टी भुगतान सहित फंड प्रवाह की जांच की जा रही थी.

बता दें कि शाओमी की भारतीय स्मार्ट फोन बाजार में 24% की हिस्सेदारी है. इसके साथ ही साल 2021 में शाओमी भारत में सर्वाधिक बिकने वाला स्मार्टफोन भी है.

एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच एमआेयू

एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच शनिवार को 13 क्रेन के निर्माण को लेकर एमआेयू हुआ है। इस पर एचइसी के सीएमडी जीके पिल्लई और दुर्गापुर स्टील प्लांट की आेर से कार्यपालक निदेशक (प्रांजेक्ट) जीसी.

 एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच एमआेयू

एचइसी और दुर्गापुर स्टील प्लांट के बीच शनिवार को 13 क्रेन के निर्माण को लेकर एमआेयू हुआ है। इस पर एचइसी के सीएमडी जीके पिल्लई और दुर्गापुर स्टील प्लांट की आेर से कार्यपालक निदेशक (प्रांजेक्ट) जीसी मित्रा ने हस्ताक्षर किये। एमआेयू के तहत रोटेटिंग क्रेन के अलावा 20 से 30 टन की क्रेन भी शामिल है। इस मौके पर एचइसी के सीएमडी जीके पिल्लई ने दुर्गापुर स्टील प्लांट को भरोसा दिलाया कि एचइसी इस ऑर्डर के उपकरणों को गुणवत्ता के साथ-साथ निर्धारित समय में आपूर्ति करेगा। इस अवसर पर दुर्गापुर स्टील प्लांट के एमडी वी श्यामसुंदर ने एचइसी को आगे भी सहयोग करने रहने का आश्वासन दिया है। इससे पहले एचइसी ने बोकारो स्टील प्लांट और भिलाई स्टील प्लांट के साथ एमआेयू किया है।

रेटिंग: 4.38
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 197
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *