प्रमुख भारतीय स्टॉक एक्सचेंज

शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे

शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे
इंडिया.कॉम 15 घंटे पहले [email protected] (India.com News Desk)

शेयर मार्केट का चार्ट कैसे देखते है? How To Read The Chart Of Share Market?

शेयर मार्केट का चार्ट कैसे देखते है? How To Read The Chart Of Share Market? Chart देखने के लिए प्लेटफार्म, कैंडल को समझना, Bullish Candle, Bearish Candle, Candlestick Pattern, Major Reversal Patterns, Continuation Pattern, Moving Average

साथियों, यह प्रश्न अक्सर नए निवेशकों द्वारा पूछा जाता है जो हाल में Share Market में Entry ले ली है पर उसके बारे में मुझे ज्यादा जानकारी नहीं है की शेयर मार्केट का चार्ट कैसे देखें? उन्हें इसके बारे में पता नहीं होता है कि किस तरह से चार्ट को रीड करें और उसमें निवेश करें। अगर देखा जाए तो चार्ट को समझना बहुत ही आवश्यक है। क्योंकि चार्ट को बिना समझे निवेश करना बिना युद्ध कला के ज्ञान के किसी बड़े योद्धा से लड़ने के बराबर है। इसीलिए शेयर मार्केट में निवेश करने के लिए आप कुछ शेयर मार्केट को समझना बहुत जरूरी है। इसके बारे में बात करेंगे।

शेयर मार्केट का चार्ट कैसे देखते है? How To Read The Chart Of Share Market?

शेयर बाजार का चार्ट देखने के लिए और समझने के लिए सबसे महत्वपूर्ण यह है कि आपको एक ऐसा प्लेटफार्म चाहिए जहां पर चार्ट को अच्छे से Present किया जाए क्योंकि चार्ट को Read करने से पहले आपके पास वह चार्ट होना बहुत ही आवश्यक है। इसके बाद जब आपके पास चार्ट उपलब्ध है तो आप चार्ट के छोटे इकाई कैंडल को समझना शुरू कीजिए। जब आपको कैंडल समझ में आ जाए और यह भी समझ में आ जाए कि किस तरह से चाट बनता है तो टेक्निकल एनालिसिस का इस्तेमाल करके चार्ट को एनालाइज करना शुरू कीजिए की चार्ट किसी Specific Point से ऊपर जाएगा या फिर नीचे। इन सभी चीजों के बारे में हमने नीचे स्टेप में बताया है, जिसे आप अच्छे से पढ़ सकते हैं।

शेयर मार्केट का चार्ट कैसे देखते है?

Chart देखने के लिए प्लेटफार्म: शेयर मार्केट का चार्ट देखने के लिए आपको सबसे पहले कोई ऐसा प्लेटफार्म चाहिए जहां पर आप चार्ट देख पाए। मैं जो प्लेटफार्म यूज करता हूं और आप सभी को भी रेकमेंड करता हूं वह है tradingview.com यहां पर आप बहुत ही अच्छे तरह से चार्ट को देख पाएंगे और एनालाइज कर पाएंगे।

कैंडल को समझना: आप यह जरूर जानते होंगे की किसी चार्ट को पढ़ने से पहले हमें कैंडल को समझना बहुत ही जरूरी है क्योंकि कैंडल चार्ट की सबसे छोटी इकाई है। छोटे-छोटे कैंडल को मिलाकर एक चार्ट का निर्माण होता है। आपको यह बता दे कि कैंडल दो तरह की होती है- 1. Bullish Candle 2. Bearish Candle

Bullish Candle: बुलिश कैंडल सामान्यतः हरी और सफेद रंग की होती है, यह तेजी को दर्शाती है, इसके चार प्रमुख भाग होते हैं Open, Close, Low & High.

Bearish Candle: बियरिश कैंडल सामान्यतः लाल और काली रंग की होती है, यह मंदी को दर्शाती है, इसके चार प्रमुख भाग होते हैं Open, Close, Low & High.

Candlestick Pattern: जब आप कैंडल के बारे में अच्छे से जान और समझ लेते है तो अब आप कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे सीखना बहुत आवश्यक है। कैंडलस्टिक पैटर्न बहुत तरह के होते है इसका प्रयोग कर आप शेयर में सबसे पहले एंट्र, एग्जिट, स्टॉपलॉस और टारगेट का अनुमान लगा सकते है।

Major Reversal Patterns: जब आप चार्ट के बारे में बेसिक तरह से रीड करना आ जाये चार्ट अलग अलग टाइम फ्रेम में मेजर रेवेर्सल पैटर्न ढूंढ़ सकते है। इसमें प्रमुख रूप से हेड एंड शोल्डर्स पैटर्न, इनवर्स हेड एंड शोल्डर्स पैटर्न, डबल टॉप और डबल बॉटम पैटर्न आते है।

Continuation Pattern: इस चार्ट पैटर्न में same ट्रेंड को continue किया जाता है। इसमें मुख्य रूप से ट्रैंगुलर, रेक्टंगुलर और फ्लैग एंड पोल चार्ट पैटर्न आते है।

Moving Average: यह एक अच्छा इंडिकेटर है जो अपने पिछले चाल का एवरेज को दर्शाता है। इसमें 50 मूविंग एवरेज, 200 मूविंग एवरेज प्रमुख है।

ऊपर दी गई सभी जानकारियों के आधार पर आप शेयर मार्केट में चार्ट का एनालिसिस कर पाएंगे। इसके लिए प्रमुख रूप से आपको बहुत ही ज्यादा प्रैक्टिस की जरूरत होती है। इसमें हमने कुछ प्रमुख चीजों के बारे में बात किया है। जब आप इतना सीख लेते हैं तो इसके बाद आप चार्ट का एनालिसिस आसानी से कर पाएंगे।

शेयर बाज़ार का चार्ट किस तरह देखते है? FAQ

आर्टिकल के इस भाग में हम कुछ इस आर्टिकल से जुड़ी महत्वपूर्ण सवालों के जवाब जो कुछ नए Investors के मन में अक्षर चल रहे होते है जिसका जवाब मैंने निचे निम्नलिखित प्रकार दर्ज किया है।

क्या शेयर मार्केट से पैसा कमाना संभव है?

Ans. हाँ, परन्तु इसके लिए आपको शेयर को एनालाइज करने का टेक्निकल तथा फंडामेंटल तरीका सीखना होगा।

शेयर बाजार का Chart देखने के लिए कौन से प्लेटफार्म का उपयोग करें?

Ans. Basically, शेयर बाज़ार का Chart देखने के लिए Trending View.in Website का उपयोग करके हम आसानी से शेयर मार्किट का Chart देख सकते है।

इन्हें भी पढ़ें-

मेरा नाम Prabhat Kumar Sharma हैं। मुझे लिखना बहुत पसंद है और मुझे Share Market, Cryptocurrency और Business की बहुत अच्छी और गहरी जानकारी है। मैं इस Blog के माध्यम से इस टॉपिक से जुड़े आपके कठिन से कठिन प्रश्नो को एक बेहतरीन और आसान तरीके से लिखकर बताने का प्रयास करता हूँ।

Career Tips: 12वीं के बाद कैसे चुनें बेस्ट करियर? इन 5 बातों का रखें ध्यान

How to Choose Best Career: 12वीं क्लास के बाद अपना करियर चुनने से पहले अपनी रूचि पर ध्यान दें. अगर आप किसी खास विषय में करियर बनाने का मन बना रहे हैं. उस विषय में आगे बढ़ने से पहले अपने माता-पिता, दोस्तों, आस-पड़ोस के शिक्षित लोगों और अपने टीचर से बात करें.

Career tips (Image Source: freepik.com)

अमन कुमार

  • नई दिल्ली,
  • 12 नवंबर 2022,
  • (अपडेटेड 12 नवंबर 2022, 9:48 AM IST)

Best Career Tips: 12वीं क्लास पास करने के बाद छात्रों के मन में फ्यूचर को लेकर कई सवाल होते हैं. एक अच्छा करियर ऑप्शन बेहतर भविष्य की सीढ़ी की तरह होता है. आखिरकार, अच्छे परफॉर्मेंस की रेस और बोर्ड परीक्षा में स्कोर करने के लिए एक छात्र को कितनी मेहनत करनी शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे पड़ती है, इसका फल तभी मिलेगा जब वह सही करियर का रास्ता चुने, लेकिन इसे कैसे किया जाए, यह एक बड़ा सवाल बन जाता है. आइए आज हम आपको ऐसे जरूरी टिप्स के बारे में बता रहे हैं जो एक बेहतर करियर विकल्प चुनने में आपकी मदद कर सकते हैं.

सोचें और रिसर्च करें
12वीं क्लास के बाद अपना करियर चुनने से पहले अपनी शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे रूचि पर ध्यान दें. अब जब आपकी बोर्ड परीक्षा खत्म हो चुकी है, तो उस विशेष विषय के बारे में सोचें जो आपको सबसे ज्यादा पसंद हो. आप साइंस स्ट्रीम, कॉमर्स या ह्यूमैनिटीज में हो सकते हैं लेकिन एक ऐसा विषय होना चाहिए जिसे आप खुद से पढ़ते हों, उस एक विषय को ढूंढते हैं और जानकारी जुटाते हों. सबसे पहले उस विषय के बारे में सोचें और तब भविष्य में उस ऑप्शन के स्कोप पर विचार करें और रिसर्च करें.

सलाह भी जरूरी है
अगर आप किसी खास विषय में करियर बनाने का मन बना रहे हैं. उस विषय में आगे बढ़ने से पहले अपने माता-पिता, दोस्तों, आस-पड़ोस के शिक्षित लोगों और अपने टीचर से बात करें. उनकी सलाह ले सकते हैं. जो भी डाउट्स हैं उन्हें क्लियर करें और तब करियर का चुनाव करें.

Share market chart kaise samjhe | शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस

Share market chart kaise samjhe– दोस्तों अगर आपको सही समय पर अच्छा मुनाफा कमाई करना है तो शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस करना जरुर आना चाहिए। इससे आप कम समय में ही अपने नुकशान को कम करके बहुत अच्छा रिटर्न कमाई कर चकते हो।

अगर आप बिना सीखे शेयर मार्केट में ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट करते हो तो आप एकतरह से जुआ खेल रहे हो इससे आपको नुकशान होने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाता हैं। आपको पता होना चाहिए कब स्टॉक को खरीदना चाहिए और कब प्रॉफिट कमाई करके बेचना चाहिए।

इसी को जानने के लिए आपको Share Market के चार्ट को अच्छी तरह समझना बहुत जरुरी हैं। क्यूंकि इसी से ही आपको पता लगेगा स्टॉक ऊपर या नीचे जाने की कितने ज्यादा संभावना हैं।

Share market chart kaise samjhe

ज्यादातर रिटेल निवेशक किसी भी चार्ट को खोलते ही उनके मन में इस चार्ट में देखे किया और शुरु कहा से करे ये सवाल जरुर आता हैं। शेयर मार्केट में किसी भी चार्ट को समझने के लिए सबसे पहले बहुत ज्यादा अभ्यास की जरुरत पड़ती हैं। उसके बाद ही काम आएगा आपका विश्लेषणात्मक कौशल जो आपको प्रयोग करना होगा उस चार्ट में।

Chart का Trend देखना चाहिए:- किसी भी स्टॉक के चार्ट अच्छी तरह से समझने के लिए आपका सबसे पहला काम होना चाहिए उस शेयर के Trend किस तरफ जा रहा हैं। उसको अच्छी तरह से देखना बहुत जरुरी हैं। वैसे तो चार्ट में 3 तरह का Trend देखने को मिलेगा। इन तीनो Trend के अन्दर से कोई ना कोई एक Trend में वो स्टॉक या Chart जरुर फॉलो कर रहा होगा। और इन ट्रेन्ड में काम करने के तरीका भी अलग अलग होता हैं।

  • Up Trend:- इस Trend का मतलब है Higher Top and Higher Bottom। जब भी चार्ट इस Trend को फॉलो करेगा आपको लगातार स्टॉक सीढ़ी की तरह ऊपर जाते ही नजर आएगा। तब आपको हमेसा उस स्टॉक को खरीदना चाहिए।
  • Down Trend:- इस ट्रेन्ड का मतलब है Lower top Lower bottom। जब भी आपको चार्ट में Down Trend देखने को मिलेगा स्टॉक हमेशा सीढ़ी की तरह नीचे आता नजर आनेवाला हैं। इस समय हमेशा उस स्टॉक को बेचके चलना चाहिए।
  • Sideways Trend:- इस ट्रेन्ड में आपको स्टॉक ना ऊपर जाता नजर आएगा और ना ही नीचे जाता नजर आएगा। एक ही रेंज में ट्रेड होता नजर आनेवाला हैं। अगर आप नए हो तो एसी चार्ट वाले ट्रेन्ड शेयर में कभी भी आपको काम नहीं करना हैं। क्यूंकि इसमें दिशा शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे पता नहीं चलते जिसकी वजह से आपका पैसा डूबने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाता हैं।

शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस

Chart का मजबूत:- किसी भी स्टॉक के Chart का मजबूत जानने के लिए आपको पहले उस स्टॉक का गतिविधि कैसा हैं उसको जानना बहुत जरुरी हैं। जब भी उस शेयर में Correction देखने को मिलते वो कितना बड़ा गिरावट होता है आपको देखना चाहिए।

यदि बहुत ज्यादा ऊपर नीचे होता दिखाई दिए आपको एसी शेयर से दूर रहना ही बेहतर हैं। अगर आपको लगता है धीरे धीरे ऊपर या नीचे जाने की Trend दिख रहा हैं उस स्टॉक में ट्रेन्ड की हिसाव से काम करोगे तो हमेसा फ़ायदा होते देखने को मिलेगा।

चार्ट का Momentum:- जिस भी स्टॉक के चार्ट में काम करना है उसका Momentum को ध्यान में रखके काम करना चाहिए। बहुत सारे ऐसे चार्ट आपको देखने को मिलेगा जिसका ऊपर जाने की स्पीड बहुत ही कम है।

अगर आप इस स्टॉक में काम करोगे तो आपको अच्छी मुनाफा कमाने के लिए बहुत समय लगनेवाला हैं। इसलिए आपको अच्छी Momentum वाले चार्ट को ही चुनना चाहिए।

Share-market-chart-kaise-samjhe

शेयर मार्केट चार्ट कैसे समझे और कमाई

रिस्क और रिवॉर्ड विश्लेषण:- अगर आप ऊपर दिए गए स्टेप को फॉलो करके कोई चार्ट को सेलेक्ट किया हो तो आपको उस चार्ट का Support और Resistant को ध्यान से देखना चाहिए। उसके बाद आपका Stop Loss वोही होना चाहिए जहा उस चार्ट ने हाल ही में कोई Support लेके ऊपर की तरफ गया हैं।

जहा पर Support लिया है स्टॉक ने, वहा आपको Stop Loss लगाना चाहिए। लेकिन ध्यान में रखना चाहिए आपका Stop Loss बहुत दूर ना हो। अगर आपको लगता है की रिस्क बहुत कम है और रिवॉर्ड बहुत ज्यादा मिल चकता है तभी आपको उस चार्ट में ट्रेड लेना चाहिए।

पतियोगी स्टॉक के चार्ट:- आप जिस भी स्टॉक के चार्ट को सेलेक्ट किया हो बाकि पतियोगी कंपनी को भी देखना चाहिए कैसा पदर्शन कर रहा हैं। आपको ध्यान में रखना चाहिए वो स्टॉक उस सेक्टर में बाकि पतियोगी कंपनी से बेहतर पदर्शन दिखा रहा हैं।

और साथ ही मार्केट यदि 1 पतिशत का मूवमेंट दिखाई उस स्टॉक की चार्ट में उससे ज्यादा की मूवमेंट दिखाने की क्षमता होना चाहिए। अगर आपको ऐसा होता दिखाई नहीं देते तो आपको दुसरे स्टॉक को खोजना चाहिए।

Maturity ट्रेन्ड चार्ट:- जब आप सभी स्टेप फॉलो कर रहे हो तब आपको अंतिम में देखना चाहिए कही वो स्टॉक कम समय में बहुत ज्यादा ऊपर तो चला नहीं गया। अगर आपको लगता है प्रॉफिट बुकिंग का समय आ चकता है। उस स्टॉक के चार्ट से आपको दूर रहना चाहिए।

चाहे न्यूज़ में कितना भी अच्छा उस स्टॉक के बारे में बताए। ज्यादा लालश के चक्कर में बिल्कुल नहीं पड़ना हैं। क्यूंकि वो स्टॉक पहले ही बहुत ज्यादा भाग चूका है आगे चार्ट में जितना बढ़ने की संभवाना होता है उतना ही ज्यादा गिरावट का मोहौल देखने को मिल चकता हैं। इसलिए Maturity ट्रेन्ड चार्ट से दूर रहना ही बेहतर हैं।

निष्कर्ष:-

शेयर बाज़ार में अगर आप ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट करके कम समय में अच्छी मुनाफा कमाना चाहते हो तो ये 6 स्टेप आपको बहुत मदद करनेवाला हैं। उसी के साथ आपको बहुत ज्यादा अभ्यास की जरुरत होगी। जितना ज्यादा आप इन स्टेप को फॉलो करके अभ्यास करोगे उतना ही आपका ट्रेडिंग और इन्वेस्टमेंट निपुण होते जाएंगे। तभी आप किसी भी चार्ट को देखके अच्छा कमाई कर पाओगे।

आशा करता हु आपको Share market chart kaise samjhe शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस पोस्ट को पढ़के चार्ट के बारे में अच्छी तरह समझ गए होंगे। अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो कमेंट में जरुर बताए। साथ ही शेयर मार्केट के महत्वपूर्ण जानकारी के साथ अपडेट रहने के लिए जरुर हमारे अन्य पोस्ट को पढ़ चकते हैं।

INOX Green Energy IPO : ऑफर खुलने के दूसरे दिन 85% सब्सक्राइब हुआ IPO,जानें- सब्सक्रिप्शन के अंतिम दिन का GMP

इंडिया.कॉम लोगो

इंडिया.कॉम 15 घंटे पहले [email protected] (India.com News Desk)

INOX Green Energy IPO : आइनॉक्स विंड की सहायक कंपनी आईनॉक्स ग्रीन एनर्जी सर्विसेज का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) सोमवार को ऑफर के दूसरे दिन 85 फीसदी सब्सक्राइब हुआ. तीन दिवसीय IPO शुक्रवार, 11 नवंबर, 2022 को खुला और मंगलवार, 15 नवंबर, 2022 को बंद हो हो जाएगा. इसका प्राइस बैंड 61 से 65 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है.

कंपनी ने गुरुवार को कहा कि उसने अपने सार्वजनिक निर्गम से पहले एंकर निवेशकों से 333 करोड़ इकट्ठा किए हैं. कंपनी ने एंकर निवेशकों को 65 रुपये प्रति शेयर पर 5.12 करोड़ शेयर आवंटित करने का फैसला किया. मॉर्गन स्टेनली एशिया (सिंगापुर) पीटीई, नोमुरा सिंगापुर लिमिटेड, सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स मॉरीशस प्राइवेट लिमिटेड, एचडीएफसी म्यूचुअल फंड (एमएफ), आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एमएफ, आदित्य बिड़ला सन लाइफ एमएफ एंकर निवेशकों में से हैं.

बता दें, आईनॉक्स ग्रीन एनर्जी आईपीओ में 370 करोड़ मूल्य के इक्विटी शेयर जारी करना और इसके प्रमोटर आईनॉक्स विंड द्वारा 370 करोड़ के इक्विटी शेयरों की बिक्री की पेशकश (OFS) शामिल है. कंपनी की योजना नए इश्यू से शुद्ध आय का उपयोग करने की है जिसका उपयोग कंपनी द्वारा ऋण चुकाने और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए किया जाएगा.

बाजार पर्यवेक्षकों के अनुसार, आईनॉक्स ग्रीन एनर्जी शेयर आज ग्रे मार्केट में शेयर मार्केट का कोर्स कैसे करे 4 रुपये का प्रीमियम (GMP) कमा रहे हैं. कंपनी के शेयरों के अगले सप्ताह बुधवार, 23 नवंबर, 2022 को स्टॉक एक्सचेंज बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध होने की उम्मीद है.

आईनॉक्स ग्रीन पवन कृषि परियोजनाओं के लिए लंबी अवधि के संचालन और रखरखाव (ओ एंड एम) सेवाएं प्रदान करने के व्यवसाय में लगी हुई है, विशेष रूप से पवन टरबाइन जनरेटर और पवन खेतों पर सामान्य बुनियादी सुविधाओं की सुविधा के लिए.

कंपनी की गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, केरल और तमिलनाडु जैसे राज्यों में मौजूदगी है.

एडलवाइस फाइनेंशियल सर्विसेज, डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स, इक्विरस कैपिटल, आईडीबीआई कैपिटल मार्केट्स और सिस्टेमैटिक्स कॉरपोरेट सर्विसेज शुरुआती शेयर बिक्री के प्रबंधक हैं.

कोविड -19 में माता-पिता को खोने वाले बच्चे कैसे जीवन और स्कूल के बीच संतुलन बना रहे हैं

कोविड -19 महामारी के दौरान , भारत में 1.47 लाख से अधिक बच्चों ने अपने माता - पिता में से एक या दोनों को खो दिया। हमने इनमें से कुछ बहादुरों से बात की जिन्होंने कोविड -19 के कारण अपने प्यारे माता - पिता को खोने के बावजूद अपनी पढ़ाई जारी रखी।

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने इस साल जनवरी में सुप्रीम कोर्ट को बताया। इनमें से अधिकतम संख्या आठ से 13 वर्ष (59,010) के आयु वर्ग के बीच है , इसके बाद 14 से 15 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चे हैं।

इनमें से कई बच्चे अब दुःख के सागर और लड़ने के लिए वित्तीय लड़ाई के साथ रह गए हैं। लेकिन यह उनके माता - पिता के सपनों को पूरा करने की उनकी इच्छा ही है जिसने उन्हें सभी बाधाओं के खिलाफ जीवित रहने में मदद की है। आशा से भरे ये बच्चे ताकत और लचीलेपन की कहानियां साझा करते हैं।

2021 में आदित्य सांघी (16) और उनकी 17 वर्षीय बहन रुद्रांशी सांघी के लिए सबसे कठिन वर्ष था , जिन्होंने कोविड -19 की दूसरी लहर में अपनी मां को खो दिया था। आंशिक रूप से लकवाग्रस्त पिता की देखभाल के लिए , भाई - बहनों ने अपनी शिक्षा का समर्थन करने के लिए पारिवारिक व्यवसाय संभालने का फैसला किया। मैं एक ऑटोमोबाइल इंजीनियर बनना चाहता था लेकिन मेरी माँ की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु ने सभी योजनाओं को बदल दिया। मैं और मेरी बहन स्कूल और व्यवसाय के बीच जूझते हैं और इसलिए किसी भी कोचिंग के लिए बहुत कम समय बचा है जो मुझे जेईई की तैयारी के लिए चाहिए। हम वैकल्पिक दिनों में स्कूल जाते हैं। इसलिए जिन दिनों मेरी बहन स्कूल जाती है , मैं व्यवसाय संभालता हूं ।

जोधपुर के राज राठी ने 2021 में अपने माता - पिता दोनों को कोविड -19 में खो दिया। कठिन दौर से गुजरने के बावजूद , राज ने कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षा में 96.4 प्रतिशत अंक हासिल किए। मेरे माता - पिता ने हमेशा मुझे कड़ी मेहनत करने के लिए मार्गदर्शन किया , लेकिन कभी भी किसी विशेष विषय को लेने के लिए मुझ पर दबाव नहीं डाला। . उनके निधन ने मेरे मानसिक स्वास्थ्य पर भारी असर डाला और तभी मैंने एक साल के लिए ब्रेक लेने का फैसला किया। मैं इतने समय तक अपने बड़े भाई - बहनों के साथ रहा और दिसंबर 2021 में मैंने क्लैट की तैयारी शुरू कर दी। मैंने कोचिंग के लिए टॉपरैंकर्स के साथ दाखिला लिया , जिन्होंने अकादमिक और आर्थिक रूप से मेरा समर्थन किया , ” राज ने साझा किया। उन्होंने AIR 516 के साथ CLAT 2022 को मंजूरी दी और उन दो कॉलेजों में से एक में प्रवेश मिला , जिसमें वह शामिल होना चाहते थे। एक अच्छे स्कोर के साथ , मुझे अपने कॉलेज की फीस का समर्थन करने के लिए छात्रवृत्ति के साथ GNLU में स्वीकार कर लिया गया। एक बार जब मैं अपनी एकीकृत बीबीए - एलएलबी की डिग्री पूरी कर लेता हूं , तो मैं एक कॉर्पोरेट वकील बनना चाहता हूं , ” उन्होंने कहा।

मई 2021 में अपने पिता की मृत्यु के बाद , 18 वर्षीय विकास कुमार आजीविका और देखभाल के विचारों में फंस गए थे। छह लोगों के परिवार के साथ , विकास की माँ ने अपने बच्चों को शिक्षित करने और खिलाने के लिए अजीबोगरीब काम किया।

15 वर्षीय आर्यन संजय कांडेकर के लिए , पिछले साल पांच महीने की अवधि के भीतर अपने माता - पिता दोनों को कोविड से खो देने के बाद जीवन बदल गया। इसके बाद आर्यन ने महाराष्ट्र के बीड में अपनी दादी के जीर्ण - शीर्ण घर में शरण ली। आर्यन अभी 10 वीं कक्षा में पढ़ रहा है और बड़ा होकर बैंक मैनेजर बनना चाहता है।

“ मेरे पिता हमेशा एक डॉक्टर बनना चाहते थे , लेकिन आर्थिक तंगी के कारण वह नहीं बन सके। मैं उनके सपनों को पूरा करूंगी , ” केन्द्रीय विद्यालय , लखनऊ की एक छात्रा 15 वर्षीय शिखा वर्मा ने कहा , जिन्होंने महामारी की दूसरी लहर के दौरान अपने पिता को कोविड से खो दिया था।

रेटिंग: 4.92
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 359
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *