सर्वश्रेष्ठ CFD ब्रोकर्स

क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए

क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए
क्योंकि मेरा मानना है कि इंट्राडे ट्रेडिंग में एक खास तरह के माइंडसेट की जरूरत होती है जो कि प्रत्येक व्यक्ति में नही होता है।

 कमाई का कुछ हिस्सा करें सुरक्षित निवेश

5000 रु. से इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करे | Intraday Trading With Only 5000 rupee in hindi

क्या 5000 रु. से इंट्राडे ट्रेडिंग हो सकती है ? या एक नए ट्रेडर को इंट्राडे ट्रेडिंग कितने पैसे से शुरू करनी चाहिए ?, इंट्राडे ट्रेडिंग के लिये कितने पैसों की जरूरत होती है ?

बहुत से लोग अक्सर ऐसे सवाल पूछते रहते हैं, लेकिन उनको कोई संतोषजनक उत्तर नही मिलता है।

आज इस लेख में इसी बात पर चर्चा होगी कि आखिर इंट्राडे ट्रेडिंग की शुरुआत करने के लिए कितने पैसों की आवश्यकता होती है और क्या 5000 रु. से भी इंट्राडे ट्रेडिंग की जा सकती है ?

 Intrad-Trading-With-5000-rupee

वैसे तो इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए जितने कम पैसे लेकर आया जाए उतना ही अच्छा रहता है।

5000 रु. से इंट्राडे ट्रेडिंग कैसे करें ? ( Intraday Trading with 5000 rupee in Hindi )

दोस्तों पांच हजार रुपए से ट्रेडिंग शुरू करने का मतलब ये नही क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए है कि आज ही 5000 रु. डाले और आज से ही पैसे कमाना शुरू हो जाएगा।

हमें इन पैसों से ट्रेडिंग सीखनी है, ये सीखना है कि ट्रेडिंग होती कैसे है, और ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमा सकते हैं।

यदि एक महीने ट्रेडिंग करने के बाद भी आपके 5000 रु. डीमैट खाते में सुरक्षित बचे रह जाते हैं तब आप ट्रेडिंग के लिए और ज्यादा पैसे भी लगा सकते हैं।

क्योंकि इंट्राडे ट्रेडिंग में पैसे कमाने के लिए क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए पहले अपनी कैपिटल बचाना सीखना जरूरी है।

जब हमारे खाते में 5000 रु. ही इंट्राडे ट्रेडिंग के लिये हो तो एक दिन की ट्रेडिंग के लिए सिर्फ 1500 रु. ही इस्तेमाल करना है। यहां पर अपने रिस्क मैनेजमेंट पर अमल करना जरूरी है यदि आपको नही पता कि रिस्क मैनेजमेंट क्या होता है तो ये intraday trading success formula हिन्दी |risk management हिन्दी लेख जरूर पढ़ें।

निष्कर्ष ( The Conclusion )

दोस्तों, इंट्राडे ट्रेडिंग में चाहे कोई 5 हजार या 5 लाख रुपए लेकर आए लेकिन यदि उसने अपना ट्रेडिंग माइंडसेट नही विकसित किया तो सिर्फ नुकसान ही होगा।

चूंकि लोग शेयर बाजार में ज्यादा पैसे कमाने के ही लालच में आते हैं इसलिए वो ट्रेडिंग के दौरान भी अपनी लालच की भावना को कंट्रोल नही कर पाते हैं।

एक बात हमेशा ध्यान रखनी चाहिए कि यदि हमें ट्रेडिंग से पैसे कमाना आता है तो हम 5000 रु. से भी इंट्राडे ट्रेडिंग मे 5 लाख रुपए बना सकते हैं।

और यदि हमें प्रॉफिट बनाना और उसे लेकर जाना नही आता है तो हम 5 लाख रुपए भी कुछ ही दिनों में मार्केट में गंवा देंगे।

उम्मीद है कि जो लोग ये कहते हैं कि मेरे पास ज्यादा पैसे नही हैं मैं ट्रेडिंग कैसे करूं या जो लोग ये पूछते हैं कि क्या 5000 रु. से इंट्राडे ट्रेडिंग शुरू कर सकते हैं ?

फंडामेंटल मजबूती का रखें ध्‍यान

शेयर बाजार में खासकर दो तरह के ट्रेडर होते हैं. एक जो फंडामेंटल पर फोकस रखते हैं और दूसरे जो अटकलों पर फैसला करते हैं. दोनों में बुनियादी फर्क स्‍टॉक की कीमत पर उनका नजरिया रहता है. फंडामेंटल निवेशक हमेशा से कंपनी की मजबूती पर ध्‍यान देता है न कि शेयर की कीमत पर. हमेशा फंडामेटल मैथड पर निवेश की क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए कोशिश करनी चाहिए. बाजार से पैसा बनाने का यह अच्‍छा तरीका है.

शेयर बाजार में इक्विटी की खरीद-बिक्री को क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए लेकर किसी खास तरह की सोच में न रहे. कई ट्रेडर्स स्टॉक खरीदने या बेचने का फैसला ज्यादातर उनके जानकारों के प्रभाव में आकर करते हैं. अगर उनके आस-पास के सभी लोग किसी खास स्टॉक में निवेश कर रहे हैं, तो एक वह ट्रेडर भी उसी स्टॉक में निवेश करता है. इस तरह की स्‍ट्रैटजी से बचना चाहिए. लॉन्‍ग टर्म में यह स्‍ट्रैटजी सही नहीं है. दुनिया के दिग्‍गज निवेशक वारेन बफेट ने जब दूसरे लालची हो जाएं तो डरने की जरूरत है, वहीं जब जब दूसरे डर रहे हो, तो आप लालची बन जाएं.

बाजार में कभी भी जल्‍दबाजी न करें

स्‍टॉक मार्केट में कभी भी जल्‍दबाजी न करें. शेयर के दाम बढ़ने से पहले खरीदना और गिरने से पहले तुरंत बेचने का फैसला नुकसान करा सकता है. ज्‍यादातर निवेशक यह मानते हैं कि ट्राइंग टू टाइम इन मार्केट सही स्‍ट्रैटजी नहीं है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि किसी भी स्‍टॉक में सटीक टॉप और बॉटम का अंदाजा लगाना मुमकिन नहीं है. अगर बाजार से पैसा कमाना है, तो इस तरह की स्‍ट्रैटजी से बचें.

बाजार में अनुशासन बहुत जरूरी है. बाजार के इतिहास देखें तो बुल मार्केट में भी अधिकांश निवेशकों में डर होता है. शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव के चलते निवेशक अपनी कमाई डुबो देते हैं, वो भी तब जब मार्केट में बुलिश ट्रेंड रहा. यानी, तेजी का दौर रहा. इसलिए निवेशकों को निवेश को लेकर अनुशासन भरा रवैया रखना चाहिए. अगर लॉन्‍ग टर्म में कमाई करना चाहते हैं, तो निवेश का क्या मुझे कोशिश करनी चाहिए और ट्रेडिंग कैसे शुरू करनी चाहिए सिस्‍टमेटिक अप्रोच होना जरूरी है.

बाजार में अपना सरप्‍लस फंड ही लगाएं

अकसर यह सुनने में आता है कि शेयरों में निवेश के चलते कोई व्‍यक्ति भारी कर्ज में फंस गया. अगर आप शेयर बाजार में निवेश की शुरुआत कर रहे हैं तो हमेशा सरप्‍लस फंड ही निवेश करें. सरप्‍लस फंड से मतलब कि जो आपके पास आपके खर्चों और अन्‍य जरूरतों को पूरा करने के बाद बचता है. अगर आपको मुनाफ होने लगता है, तो आप उस पैसे को दोबारा निवेश करेंगे. कभी भी लोन या कर्ज लेकर निवेश न करें.

Zee Business Hindi Live TV यहां देखें

Investment Tips: शेयर मार्केट से करोड़पति कैसे बनें? आपका भी है यही सवाल? ये 7 जवाब

अमित कुमार दुबे

पैसा कमाना हर किसी को अच्छा लगता है. कहा जाता है कि शेयर बाजार में बहुत पैसा है. कुछ लोगों को उदाहरण दिया जाता है कि इन्होंने महज 5000 रुपये से निवेश की शुरुआत की थी, और आज शेयर बाजार से करोड़ों रुपये बना रहे हैं. आखिर उनकी सफलता का राज क्या है, आज हम आपको बताएंगे? (Photo: Getty Images)

How can I earn 1 crore easily

दरअसल, आप भी कुछ आसान टिप्स को फॉलो कर शेयर बाजार से पैसे बना सकते हैं. शेयर बाजार में कुछ बातों का ध्यान रखकर आप लखपति से करोड़पति बन सकते हैं. लेकिन अक्सर लोग पैसे बनाने की होड़ में नियम और रिस्क को भूल जाते हैं, या फिर कहें जानबूझकर नजरअंदाज कर देते हैं. और फिर उनकी उनकी शिकायत होती है कि शेयर बाजार से बड़ा नुकसान हो गया. (Photo: Getty Images)

Muhurat Trading Kya Hai? दिवाली के दिन कुछ देर की लिए खुलता है शेयर बाजार? जानिए क्यों

Muhurat Trading in Hindi: क्या आप जानते है कि शेयर बाजार हर साल दीवाली के दिन कुछ घंटों के लिए खुलता है, इस सेशन को Muhurat Trading के नाम से जाना जाता है। आइए और विस्तार से समझते है कि Muhurat Trading Kya Hai? (What is Muhurat Trading in Hindi) और इसके क्या फायदें है।

Muhurat Trading in Hindi: हिंदू पंचांग के अनुसार दीपावली जो कि रोशनी का त्योहार है, एक शुभ अवसर है। यह बुराई पर विजय, अज्ञान पर ज्ञान और अंधकार पर प्रकाश की विजय का प्रतिनिधित्व करता है। हर दूसरे धार्मिक त्योहार की तरह, दीवाल असंख्य मान्यताओं, रीति-रिवाजों और परंपराओं से घिरा हुआ है। मुहूर्त ट्रेडिंग (Muhurat Trading) ऐसी ही एक परंपरा है।

हर साल, शेयर बाजार मुहूर्त ट्रेडिंग के लिए समय निर्धारित करता है। 'मुहूर्त' शब्द एक भाग्यशाली समय को दर्शाता है। Muhurat Trading भारतीय व्यापारियों के बीच एक लगातार अभ्यास है। दिवाली के दिन यह एक घंटे का समय होता है जिसे स्टॉक निवेश के लिए भाग्यशाली माना जाता है। शेयर बाजार हर साल Muhurat Trading का समय तय करता है। आइए और विस्तार से समझते है कि Muhurat Trading Kya Hai? (What is Muhurat Trading in Hindi) और इसके क्या फायदें है।

इंट्राडे ट्रेडिंग क्या होती है intraday Stock Seletion Tips

इंट्राडे trading का मतलब है शेयर का एक ही दिन में खरीद कर उसी दिन बेच देना. जैसे की शेयर मार्केटिंग में शेयर को कम पैसो में खरीद के ज़्यादा पैसो में बेचना होता है. वैसे ही intraday trading में आपको शेयर को खरीदना है और कम time में पैसे बढ़ने पर शेयर को उसी दिन बेच देना होता है. intraday Stock Seletion Tips

Intraday trading risky है, आपने जो शेयर ख़रीदा उसके पैसे उस दिन बढ़ेंगे या नहीं ये कोई नहीं कह सकता. इसलिए Intraday trading करने वाले ज़्यादातर full time investor होते है. जो हर वक़्त monitor पर निगहा रख, शेयर के prices को predict करने की कोशिश करते है.

Intraday के लिए Stock कैसे चुने

इंट्राडे Stock Selecton :-

अधिक VOLATILITY वाले शेयर खरीदना :- इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए ज्यादा VOLATILITY वाले शेयर सही रहते है क्योकि Volatility का मतलब है शेयर के पैसो का जल्दी जल्दी कम या ज़्यादा होते रहना और Intraday trading में आप तभी फ़ायदा उठा सकते है जब शेयर का पीछे बहुत ज्यादा कम ज्यादा होता हो

और इसमें आप दोनों साइड रुपये कमा सकते है इसमें प्राइस कम होता है तो भी और बढ़ते है तो भी इसलिए आज बहुत से लोग Intraday के अंदर अच्छे पैसे कमाते है |

अच्छी Liquidity वाले शेयर ख़रीदे :- जिस शेयर में अच्छी Liquidity होती है उस शेयर से इन्वेस्टर अच्छे पैसे कमाते है क्योकि Liquidity से मतलब है की बहुत सारे share का market में available होना जिस से आसानी से उस शेयर को बेच सकते है और खरीद सकते है और अच्छे पैसे कमा सकते है

इंट्रा डे के लिए सबसे अधिक volatile शेयर एनएसई

Most volatile stock NSE for intraday :- जिस शेयर में प्राइस का मूवमेंट ज्यादा होता हैं उसको ही इंट्राडे के लिए सबसे बढ़िया शेयर माना जाता हैं |

  • mahindra and mahindra – इस कंपनी का शेयर में आप बड़े आसानी से इंट्राडे का सौदा ले सकते हैं इसमें हर दिन 5 से 30 रूपए का मूवमेंट बना रहता हैं इसलिए आप आसानी से रोज इसमें आधा से 1% तक का मुनाफा कमा सकते हैं और इसका रोज का वॉल्यूम 5 से 20 लाख का है ।
  • bajajfinsv – इस शेयर में रोज आप आसानी से केवल एक शेयर में पैसा लगाकर 100 रूपया तक कमा सकते हैं और इसमें यदि एक महीने की एवरेज वॉल्यूम की बात करे तो 2 से 5 लाख तक का हैं ।
  • bajajfinance – इसमें रोज 10 से 25 लाख का वॉल्यूम आता है जिसके कारण यह शेयर ज्यादा मोलेटाइल रहता हैं और इसके प्राइस में मेभी उतार चढ़ाव ज्यादा रहता हैं ।
  • maruti – इसके रोज प्राइस में 50 से 300 रूपए तक के मूवमेंट रहती हैं और वॉल्यूम 5 से 10 लाख के बीच है और इस लिहाज से आप इसको भी अस्थिर शेयर नसे मान सकते हैं ।
  • hdfc – इसमें वॉल्यूम 30 से 50 लाख रोज का आता हैं और यह कम प्राइस का शेयर होने के कारण इसके प्राइस का मूवमेंट 50 से 100 रूपए तक हैं ।
  • icici bank – इसमें प्राइस का अंतर 20 से 100 रुपये तक का रहता हैं और वॉल्यूम इसमें 1 से 3 करोड़ तक रोज का है जो की सबसे ज्यादा हैं ।

इंट्राडे ट्रेडिंग नई रूल्स 2021 intraday Stock Seletion Tips

Intraday Trading New Rules 2021 :-एक मार्च 2021 से इंट्राडे के लिए नए नियम लागू हुए है जिसमे यदि आप अपने पैसे से इंट्राडे करना चाहते हैं तो कोई बात नहीं है लेकिन आप कोई लवरेज के द्वारा इंट्राडे में कोई सौदा खरीदना चाहते हैं तो आपके अकॉउंट में 10 % अमाउंट होना जरुरी हैं ।

यदि आपको यह intraday Stock Seletion Tips Hindi की जानकारी पसंद आई या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये |

रेटिंग: 4.41
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 206
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *