ट्रेडिंग विचार

निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष

निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष
वकील प्रशांत भूषण के माध्यम से दायर याचिका में आरबीआई द्वारा शासित एक केंद्रीकृत डाटा वेबसाइट की आवश्यकता से संबंधित मुद्दों को भी उठाया गया है, जिससे मृत बैंक खाताधारकों के मूल विवरण उपलब्ध हों और कानूनी उत्तराधिकारियों द्वारा निष्क्रिय खातों के धन का दावा करने की प्रक्रिया आसान बन जाए।

GIIS Ahmedabad students participate in Joy of Giving Week

Daily Current affair of 14th Feb 2022:For the Aspirants of competative exam

Current Affairs of 14th Feb 2022: Today Section provides latest and Best Daily Current Affairs for UPSC, PCS, Banking, IBPS, SSC, Railway, UPPSC, RPSC, BPSC, MPPSC, TNPSC, and other competition exams.

Guys,If you are preparing for Government Job Exams, then it is very important for you to read the Daily Current Affairs. All the important updates based on current affairs are included in this Daily Current Affairs.”

Daily Current affair of 14th Feb 2022

  • सूरत का अपना बुलेट ट्रेन स्टेशन होगा।
  • इसे दिसंबर 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य है।
  • बुलेट ट्रेन स्टेशन मुंबई-अहमदाबाद मार्ग पर बनने वाला पहला स्टेशन होगा।
  • नेशनल हाई-स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) ने परियोजना के निर्माण की जिम्मेदारी ली है।
  • डॉक्यूमेंट्री, शॉर्ट फिक्शन और एनिमेशन फिल्मों (MIFF-2022) के लिए मुंबई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का 17वां संस्करण 29 मई से 4 जून 2022 तक फिल्म डिवीजन कॉम्प्लेक्स, मुंबई में आयोजित किया जाएगा।
  • 1 सितंबर 2019 और 31 दिसंबर 2021 के बीच पूरी की गई फिल्में MIFF-2022 में प्रविष्टि के लिए पात्र हैं।
  • महोत्सव निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष की सर्वश्रेष्ठ डॉक्यूमेंट्री को स्वर्ण शंख और 10 लाख रुपये का नकद पुरस्कार मिलेगा ।

~SEBI ने किया IPEF पर सलाहकार समिति में बदलाव

  • SEBI ने निवेशक संरक्षण और शिक्षा निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष कोष (IPEF) पर अपनी सलाहकार समिति का पुनर्गठन किया है।
  • पैनल को निवेशक शिक्षा और सुरक्षा गतिविधियों की सिफारिश करना अनिवार्य है जो सीधे बाजार नियामक द्वारा, या किसी अन्य एजेंसी के माध्यम से की जा सकती हैं।
  • आठ सदस्यीय समिति की अध्यक्षता अब SEBI के पूर्व पूर्णकालिक सदस्य जी. महालिंगम करेंगे।
  • रेडियो के महत्व को रेखांकित करने के उद्देश्य से हर साल 13 फरवरी को विश्व रेडियो दिवस मनाया जाता है।
  • UNESCO के सदस्य देशों ने पहली बार 2011 में इस दिन की घोषणा की थी।
  • हालाँकि, बाद में इसे संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 2012 में एक अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में अपनाया गया था।
  • विश्व रेडियो दिवस 2022 की विषयवस्तु “रेडियो एंड ट्रस्ट” है।

सेबी ने निवेशक संरक्षण, शिक्षा कोष पर सलाहकार समिति का पुनर्गठन किया, मोनिका हलन होंगी अध्यक्ष – sebi reconstitutes advisory committee on investor protection education fund, monica halan will be the chairman

नयी दिल्ली, 17 अगस्त (भाषा) पूंजी बाजार नियामक सेबी ने निवेशक संरक्षण और निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष शिक्षा कोष (आईपीईएफ) पर अपनी सलाहकार समिति का पुनर्गठन किया है।

निवेशक शिक्षा और सुरक्षा गतिविधियों की सिफारिश करती है। इन सिफारिशों को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) सीधे या किसी अन्य एजेंसी के जरिये लागू कर सकता है।

बाजार नियामक की द्वारा दी गई ताजा जानकारी के मुताबिक, आठ सदस्यीय समिति अध्यक्षता अब एनआईएसएम में लेखक, वक्ता और प्रोफेसर मोनिका हलन करेंगी।

की अध्यक्षता पहले सेबी के पूर्व पूर्णकालिक सदस्य जी महालिंगम कर रहे थे। महालिंगम से पहले समिति की अध्यक्षता आईआईएम-अहमदाबाद के पूर्व प्रोफेसर अब्राहम कोशी ने की थी।

ज्ञान दर्शन चैनल की टेली लेक्चरिंग सुविधा का उपयोग करने के लिए इग्नू के साथ निवेशक शिक्षा और संरक्षण कोष प्राधिकरण ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

निवेशक शिक्षा निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष और संरक्षण कोष प्राधिकरण (आईईपीएफए) और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) ने आज दूरस्थ शिक्षा मोड के माध्यम से निवेशक जागरूकता के प्रसारण के लिए ज्ञान दर्शन चैनल (ईपीएमसी) की टेली-लेक्चरिंग सुविधा के उपयोग के लिए एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय (एमसीए) के सचिव और आईईपीएफए का पूर्व अध्यक्ष, श्री राजेश वर्मा ने कहा कि इग्नू ने अंतरराष्ट्रीय मान्यता और समक्षता के साथ ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग के लिए राष्ट्रीय संसाधन केंद्र के रूप में खुद के लिए एक जगह बनाई है। यह देखकर खुशी होती है कि इग्नू दीर्घकालिक और शिक्षाप्रद केंद्रित गुणवत्ता शिक्षा और नवीन तकनीकों द्वारा सभी को प्रशिक्षण के लिए सहज पहुंच प्रदान कर रहा है। निवेशक शिक्षा और जागरूकता संदेशों को फैलाने में इग्नू और ज्ञान दर्शन चैनल के साथ इस सहयोग से आईईपीएफए को लाभ मिलना निश्चित है। श्री राजेश वर्मा ने ये बातें दोनों के बीच समझौता ज्ञापन के दौरान कही।

बिना दावे के बैंकों में पड़े हैं 40 हजार करोड़, Supreme Court ने Central government को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

नई दिल्ली: Supreme Court ने बैंकों में बिना दावे के पड़े 40 हजार करोड़ रुपये को लेकर Central government को नोटिस जारी कर जवाब माँगा है। Justice S Abdul Nazeer और Justice JK Maheshwari की पीठ ने पत्रकार Sucheta Dalal की याचिका पर Central government, RBI से इसे महत्वपूर्ण मुद्दा बताते हुए जवाब मांगा है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बैंको में रखे मृत निवेशकों, जमाकर्ताओं और खाताधारकों के 40 हजार करोड़ रुपये से अधिक की लावारिस राशि सही कानूनी वारिसों को उपलब्ध कराने के लिए तंत्र विकसित करने के लिए याचिका लगाई गई थी, जिस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब माँगा है.

भारत का पहला पानी में तैरता वित्तीय साक्षरता शिविर, डल झील में निवेशक दीदी कर रही मदद

J&K india first floating bank

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर में डल निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष झील के आसपास स्थानीय निवासियों के बीच तैरता हुआ वित्तीय साक्षरता शिविर आयोजित किया गया

'निवेशक दीदी' नामक पहल शुरू की गई है।'महिलाओं के द्वारा, महिलाओं के लिए' अवधारणा को आत्मसात किया गया है।

सूचनाजी न्यूज़,जम्मू-कश्मीर। भारत सरकार के डाक विभाग के तहत स्थापित इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) ने श्रीनगर (जम्मू-कश्मीर) में वित्तीय साक्षरता को बढ़ाने के लिए भारत का पहला पानी पर तैरता वित्तीय साक्षरता शिविर आयोजित किया। ‘निवेशक दीदी’ पहल के तहत ‘महिलाओं के लिए, महिलाओं के द्वारा’ की अवधारणा के साथ वित्तीय साक्षरता बढ़ाना लक्ष्य है।

निवेशक दीदी’ नामक पहल शुरू

वित्तीय साक्षरता अभियान को आगे बढ़ाने के लिए, आईपीपीबी ने कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय (एमसीए) के तत्वावधान में निवेशक शिक्षा एवं संरक्षण कोष प्राधिकरण (आईईपीएफए) के सहयोग से ‘निवेशक दीदी’ नामक पहल शुरू की है। इसमें ‘महिलाओं के द्वारा, महिलाओं के लिए’ अवधारणा को आत्मसात किया गया है। निवेशक दीदी पहल महिलाओं के लिए महिलाएं की सोच पर आधारित है क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं अपने मन में उठे सवालों को किसी महिला के साथ साझा करने में अधिक सहज महसूस करती हैं।

कश्मीर घाटी की तीन निवेशक दीदी प्रतिनिधियों को श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर में हाल ही में आयोजित हुए आईईपीएफए सम्मेलन के दौरान केंद्रीय कॉरपोरेट कार्य राज्य मंत्री निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष राव इंद्रजीत सिंह और सांसद (श्रीनगर) डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने प्रमाण पत्र प्रदान किए। इस अवसर पर आईईपीएफए की सीईओ अनीता शाह अकेला, जेएस एमसीए और आईईपीएफए, डाक विभाग, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक, सीएससी ई-गवर्नेंस, भारतीय कंपनी सचिव संस्थान, कश्मीर चैंबर ऑफ कॉमर्स और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

डल झील के आसपास के स्थानीय निवासियों पर फोकस

‘निवेशक दीदी’ पहल के शुभारंभ के हिस्से के रूप में, आईपीपीबी ने एक नवनियुक्त निवेशक दीदी द्वारा भारत का पहला पानी पर तैरने वाला वित्तीय साक्षरता शिविर आयोजित किया। यह शिविर जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में विश्व प्रसिद्ध डल झील के आसपास के स्थानीय निवासियों के बीच आयोजित किया गया। शिकारा इन लोगों के जीवन का अभिन्न अंग है, ऐसे में कई शिकारा पर ही लोग जुटे और ‘निवेशक दीदी’ ने शिकारा से ही स्थानीय कश्मीरी भाषा में वित्तीय साक्षरता सत्र आयोजित किया। इस तरह से पूरा सत्र डल झील के पानी में आयोजित किया गया।

इस पहल के बारे में बात करते हुए डाक विभाग के सचिव विनीत पांडे ने इसे वित्तीय समावेशन की खाई को पाटने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम बताया। भारत में आयोजित पहला तैरता हुआ वित्तीय साक्षरता शिविर देश के हर घर में दूर-दूर तक पहुंचने की डीओपी टीम की क्षमता को दर्शाता है, जबकि भौगोलिक क्षेत्र अलग-अलग हैं। इसने ग्रामीण महिलाओं के लिए अपने वित्तीय उत्पादों और सेवाओं को लेकर समझ बढ़ाने, धोखाधड़ी से सावधान रहने और निवेशक दीदी की मदद से अपनी भाषा में सहायता पाने का मार्ग प्रशस्त किया है।

सामाजिक जुड़ाव रखने वाली महिला डाकिया

पहले तैरने वाले वित्तीय साक्षरता शिविर पर बोलते हुए इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के एमडी और सीईओ जे. वेंकटरामू ने कहा, ‘निवेशक दीदी के निवेशक शिक्षा और सुरक्षा कोष जरिए, आईपीपीबी ग्रामीण आबादी के सामने भाषा और वित्तीय उत्पादों एवं सेवाओं की बुनियादी समझ को लेकर सामने आने वाली चुनौतियों को पार करते हुए नया मील का पत्थर हासिल करेगा। ग्रामीण जनता से गहरा सामाजिक जुड़ाव रखने वाली महिला डाकिया, निवेशक दीदी विशेष रूप से महिलाओं में वित्तीय जागरूकता बढ़ाएंगी और उनकी समस्याओं का समाधान करने के साथ सुविधाजनक तरीके से सहयोग करेंगी।’

-इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) को संचार मंत्रालय के अधीन डाक विभाग के तहत स्थापित किया गया है, जिस पर भारत सरकार का शत-प्रतिशत मालिकाना हक है।

-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक सितंबर, 2018 को आईपीपीबी का शुभारंभ किया था। बैंक की स्थापना इस दृष्टिकोण के तहत की गई है कि इसके जरिए भारत के आम जनमानस के लिए अत्यंत सुगम, सस्ती और भरोसेमंद बैंक सेवा उपलब्ध कराई जा सके।

रेटिंग: 4.29
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 150
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *